Monday, August 8, 2022

हमें फॉलो करें :

HomeCrimeसीए, डॉक्टर, वकील : अपना न्यूड फोटो शेयर कर...

सीए, डॉक्टर, वकील : अपना न्यूड फोटो शेयर कर ठगों का शिकार क्यों बन रहीं पढ़ी-लिखीं महिलाएं

- Advertisement -
सीए, डॉक्टर, वकील : आरोपी पहले युवतियों से प्यार भरी बातें करता था। जो लड़की उससे बात करना शुरू देती थी, उससे वह अपने परिवार की परेशानियों से लेकर हर दिन होने वाली छोटी-छोटी घटनाओं के बारे में बताता था। ऐसे में लड़कियां उसके झांसे में आ जाती थीं। इस दौरान वह उन्हें अपनी परेशानी बताकर रुपये ले लेता था।
हाइलाइट्स
10 राज्यों की 18 महिलाओं से शादी करने का मामला आया सामने
पकड़ा गया 33 साल का सॉफ्टवेयर इंजीनियर, सामने आई करतूत
15 राज्यों में रहने वाली लड़कियों से 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी
नई दिल्ली: कई बार ऐसी घटनाएं सामने आती हैं जिस पर यकीन करना मुश्किल होता है। हम खुद ही बार-बार यह सवाल पूछते हैं कि आखिर यह कैसे हो सकता है। आज के वक्त यानी डिजिटल युग (Digital Era) में धोखाधड़ी और ठगी के मामले काफी बढ़े हैं। ब्लैकमेलिंग (Issue of Blackmailing) के भी कई मामले सामने आए हैं।
कई ऐसी घटनाएं भी सामने आई हैं जिसके बाद यह कहा जा सकता है कि आखिर पढ़ी लिखीं महिलाएं ऐसा कैसे कर सकती है। अनजान शख्स के साथ ऐसी तस्वीरें शेयर कर दी और बाद में पछताना पड़ा। पिछले एक हफ्ते की ही बात करें तो देश के कई हिस्सों से ऐसे मामले आए हैं जिस पर सबको हैरानी हो रही है। ओडिशा का तो मामला कुछ अलग ही लेवल का है।
धोखाधड़ी और ब्लैकमेलिंग उन महिलाओं के साथ हुई है जो पढ़ी लिखी हैं। कोई डॉक्टर है, कोई टीचर तो कोई कमांडेंट। ऐसे ही कुछ मामले जिसके बाद वाकई सबको सजग रहने की जरूरत है। यह सभी मामले एक अलग लेवल की कहानी बयां करते हैं।

सच्चे लाइफ पार्टनर के नाम पर बनाया कई महिलाओं को बेवकूफ

ओडिशा में पिछले दिनों ऐसा मामला सामने आया जिसको सुनने के बाद अधिकांश लोगों ने यही कहा कि ऐसा कैसे। यह कहानी आपको पता न हो तो जरा पढ़ लीजिए। पिछले दिनों ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में 66 साल के रमेश स्वान को गिरफ्तार किया गया है।
रमेश पर 10 राज्यों की 18 महिलाओं से शादी करने और उनसे मेडिकल कॉलेज खुलवाने व दाखिले के नाम पर लाखों रुपये की ठगी का आरोप है। रमेश स्वान उर्फ बिधु प्रकाश साधारण शख्स की तरह है- छोटी कद-काठी लेकिन फिर भी अपने प्रफेशनल चार्म के चलते उसने कई इंडिपेंडेंट महिलाओं को अपने जाल में फंसाया।
आपको जानकर यह हैरानी होगी कि पीड़ित महिलाओं में दो वकील और डॉक्टर भी हैं। रमेश ने 10 राज्यों की महिलाओं को सच्चे लाइफ पार्टनर के नाम पर बेवकूफ बनाया और उनसे लाखों रुपये की ठगी की। पुलिस ने वैलंटाइंस डे पर ओडिशा के केंद्रपाड़ा के सिंघला गांव से उसे गिरफ्तार किया।
आरोपी रमेश के पास कम से कम 13 क्रेडिट कार्ड, भुवनेश्वर के टोनी कॉलोनी में तीन प्रॉपर्टी, 18 पत्नियां और तीन मंगेतर हैं। पत्नियों की लिस्ट में डॉक्टर, चार्टर्ड अकाउंटेंट, आईटीबीपी कमांडेंट, दो वकील और एक केरल की सरकारी कर्मचारी भी शामिल हैं।
रमेश स्वान लंबे समय से महिलाओं को बेवकूफ बना रहा था। भुवनेश्वर के डीसीपी उमा शंकर दास का कहना है कि स्वान को 2006 में बैंक फ्रॉड के सिलसिले में गिरफ्तार किया जा चुका है। इसके बाद 2010 में मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के नाम पर स्टूडेंट्स से 2 करोड़ रुपये की ठगी करने पर हैदराबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया था।
रमेश की पहली शादी साल 1979 में हुई थी और उसके दो बेटे हैं। बाद में वह और उसकी पत्नी अलग हो गए। 2018 के बाद उसने कई मैट्रिमोनियल साइट पर अपने अकाउंट बनाए। उसने अलग-अलग प्रोफाइल में खुद को डॉक्टर और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में कार्यरत सरकारी कर्मचारी के रूप में बताया है।
वह एक जगह से दूसरी जगह तक, एक महिला से दूसरी महिला के पास जाता रहा और उनसे पैसे ऐंठने का सिलसिला तब तक जारी रहा जब तक कि वह पकड़ा नहीं गया।

15 राज्यों की महिलाओं को बनाया शिकार, यूपी में पकड़ा गया

पिछले महीने यानी फरवरी के आखिरी हफ्ते में यूपी के गाजियाबाद से पुलिस ने एक ऐसे शख्स को पकड़ा जो न जाने कितनी महिलाओं की जिंदगी बर्बाद कर चुका है। सोशल मीडिया पर प्यार और फिर ब्लैकमेल कर ठगी करने वाले इस शातिर बदमाश को साइबर सेल ने गिरफ्तार किया है।
पकड़ा गया युवक दिल्ली-एनसीआर के अलावा पंजाब, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत 15 राज्यों में रहने वाली युवतियों से 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी कर चुका है। आरोपी यूपी के मिर्जापुर का रहने वाला है वह एमबीए की पढ़ाई करने के बाद कोलकाता में एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी चला रहा था।
कोरोना काल में काम बंद हुआ तो उसने डेटिंग ऐप पर युवतियों को ठगना शुरू कर दिया। उसने राजनगर एक्सटेंशन में रहने वाली एक सीए से 24 लाख रुपये की ठगी की थी। जिसकी शिकायत साइबर सेल में दी गई थी। जिसके बाद आरोपी को पकड़ा गया। उसके पास से 3 मोबाइल और 7 सिम बरामद हुए हैं। प्राथमिक जांच में 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी की जानकारी मिली है। आरोपी के सभी बैंक खातों को पुलिस खंगाल रही है।
पुलिस ने बताया कि आरोपी आनंदपाल तीन अलग-अलग मोबाइल नंबरों से ठगी कर रहा था। इसके लिए उसने इंस्टाग्राम, टिंडर, ओके-क्यूपिड, हिंज, जीवनसाथी, फेसबुक समेत 11 ऐप पर वैभव अरोड़ा के नाम से फर्जी अकाउंट बनाए थे। जिसमें वह एक पुरुष मॉडल के फोटो का इस्तेमाल करता था।
उसके तीनों मोबाइल में देशभर की 500 महिलाओं के नंबर मिले हैं, जिसे उसने अलग-अलग एरिया और ऐप के नाम से सेव किया हुआ था। आरोपी ने करीब 100 लड़कियों के मोबाइल नंबर को ब्लॉक भी किया हुआ है। अंदेशा है कि वह 1 हजार से ज्यादा महिलाओं और युवतियों से संपर्क कर चुका है।

दिल्ली से पकड़ा गया, सॉफ्टवेयर इंजीनियर ऐसे बना रहा था निशाना

मॉडल्स को ब्लैकमेल करने और उनकी न्यूड तस्वीरें सोशल मीडिया साइट इंस्टाग्राम पर डालने के एक मामले में पुलिस ने 33 साल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है आरोपी गूगल में काम करता है और वह खुद को एक रशियन फैशन मैगजीन का एडिटर बताकर लड़कियों से संपर्क करता था।
पीड़ित महिलाओं ने बताया कि मोहित शर्मा ने खुद को एक रशियन फैशन मैगजीन का एडिटर बताया था और उनसे न्यूड तस्वीरें मांगी थी हालांकि तस्वीरों में चेहरा छिपाकर रखने के लिए कहा गया था। पीड़ितों में कुछ नाबालिग भी शामिल हैं।
आरोपी पीड़ित लड़कियों से नई न्यूड तस्वीरें शेयर करने के लिए कहता था और मना करने पर पहले शेयर की तस्वीरें उनके दोस्तों और रिश्तेदारों को शेयर करने की धमकी देता था। शर्मा ने पीड़ितों की इंस्टाग्राम प्रोफाइल तस्वीरों का भी इस्तेमाल किया। पुलिस ने आरोपी पर आईटी ऐक्ट सेक्शन 67 और 66सी, आईपीसी की धारा सेक्शन 419, पॉक्सो ऐक्ट के सेक्शन 12 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
- Advertisement -

- Advertisement -

41,285,445FansLike
47,275,216FollowersFollow
42,195,696FollowersFollow
23,782,666FollowersFollow
35,155,477SubscribersSubscribe

You May Like